Diabetes: ये टेस्ट जरूर कराएं

Diabetes: ये टेस्ट जरूर कराएं

डायबिटीज आज एक आम बीमारी हो गई है। खराब लाइफस्टाइल के चलते युवा भी इसकी चपेट में आने लगे हैं। ऐसे में यह बेहद जरूरी है कि हम समय-समय पर Diabetes की जांच करवाते रहें। ध्यान रखें कि इसे नजरअंदाज करना आगे चलकर काफी भारी पड़ सकता है। यहां हम आपको ऐसे ही कुछ टेस्ट के बारे में बताने जा रहे हैं।

ब्लड प्रेशर
डायबिटीज और ब्लड प्रेशर का काफी गहरा नाता होता है। अगर किसी को इनमें से कोई एक बीमारी है तो दूसरी के होने की आशंका अधिक रहती है। एक सर्वेक्षण में यह पाया गया था कि डायबिटीज के मरीज लंबे समय के बाद हाई ब्लड प्रेशर के पीडि़त हो जाते हैं। लिहाजा समय-समय पर ब्लड प्रेशर की जांच करते रहें।diab

ग्लाइकेटिड हीमोग्लोबिन
इसे एक तरह का ब्लड टेस्ट कहा जा सकता है। इसमें पिछले 2-3 महीने की डायबिटीज की जानकारी मिल जाती है। जो डायबिटीज के इलाज के लिए बेहद जरूरी है। डॉक्टर आपको कोई भी दवा देने से पहले यह टेस्ट कराने के लिए जरूर कहेगा। जानकार इस टेस्ट को तीन महीनों में एक बार कराने की सलाह देते हैं।

आई टेस्ट
डायबिटीज का आंखों से भी रिश्ता होता है। आमतौर पर देखा गया है कि डायबिटीज से पीडि़त व्यक्ति की आंखें कमजोर हो जाती हैं। डायबिटीज की वजह से आंखों में होने वाली बीमारी को आई रेटीनोपैथी कहा जाता है। इसलिए यह जरूरी है कि पीडि़त को साल में एक या दो बार अपनी आंखों की जांच जरूर करवाई चाहिए।

एमसीआर टेस्ट
एलब्यूमिनूरिया-2 क्रिएटिनाइन टेस्ट किडनी की सेहत का पता लगाने के लिए किया जाता है। डायबिटीज शरीर के कई अंगों को प्रभावित करती है, जिसमें किडनी भी शामिल है। इसके चलते उच्च रक्तचाप के साथ ही खून की कमी जैसी समस्याएं भी पैदा हो जाती हैं। लिहाजा डायबिटीज पीडि़तों को साल में एक बार यह टेस्ट अवश्य करना चाहिए।

Share:

Related Post

Leave a Reply