लिक्विड सोप इस्तेमाल करते हैं तो सावधान!

अगर आप साबुन और पानी से हाथ धोने के बजाए हैंड जैल को तवज्जो देते हैं, तो आप गलती कर रहे हैं. कुछ शोध में यह पाया गया है कि हैंड जैल न केवल सभी जीवाणुओं से लड़ने में कारगर नहीं है बल्कि ये आपकी सेहत के लिए भी खतरनाक हो सकता है. लिक्विड सोप या हैंड जैल आजकल बहुत लोकप्रिय हैं. ज़्यादातर लोगों ने सामान्य साबुन से हाथ धोने की आदत को कब का छोड़ दिया है.

एक हैंड जैल में 60 फीसदी एल्कोहल होता है. इसके ज्यादा इस्तेमाल से रोगाणु जल्दी ख़त्म हो जाते हैं, लेकिन इसके नुकसान भी हैं. बीबीसी एक खबर के अनुसार हैंड जैल की सफलता इस बात पर निर्भर करती है कि आपके हाथों में मिट्टी की मौजूदगी कितनी है. कुछ रोगाणु जैसे कि न्यूरोवायरस और सी. डिफिसाइल पर हैंड जैल ज्यादा प्रभावी नहीं होते. इसके मुकाबले पानी और साबुन से हाथ धोना अधिक असरदार होता है.

क्या नुकसान
कई शोधों के मुताबिक, हैंड जैल में ट्राइकोल्सन होता है, जो आपके हार्मोन में गड़बड़ी पैदा करता है. यहां तक कि इससे जीवाणु प्रतिरोधी क्षमता भी प्रभावित होती है. ट्राइकोल्सन के कारण पेट संबंधी समस्या भी बनी रहती हैं.

Leave a Reply