मुसीबत में भी नहीं छोड़ा साथ

मुसीबत के dogवक्त इंसान भले ही एक-दूसरे का साथ छोड़ देते हों, लेकिन जानवर ऐसा नहीं करते। वॉशिंगटन की एक घटना ने इस बात को फिर सही साबित कर दिया है। दरअसल, टिल्ली और पोहबी नाम दो पालतू Female Dog अचानक 8 सितंबर को कहीं गायब हो गए। मालिक ने उन्हें ढूंढने की लाख कोशिश की, लेकिन जब सफलता नहीं मिली तो उसने वैशन आइलैंड पेट प्रोटेक्टर्स (वीआईपीपी) से संपर्क किया। संस्था भी अपने स्तर पर कुत्तों की खोज में जुट गई। 10 दिनों कुत्तों का कोई पता नहीं चला, मालिक को अब लगने लगा था कि शायद वो फिर कभी टिल्ली और पोहबी को नहीं देख पाएगा। लेकिन तभी एक उम्मीद की किरण दिखाई दी, किसी ने संस्था को बताया कि उसने एक कुत्ते को रिहाइशी इलाके की तरफ आते हुए देखा था, मगर थोड़ी ही देर में वो गायब हो गया। संस्था के सदस्यों ने तुरंत बताए गए स्थान पर पहुंचकर खोज शुरू की। कुछ देर की मशक्कत के बाद उन्होंने देखा कि टिल्ली एक पुरानी टंकी की दीवार के पास बैठा है, जब उन्होंने टिल्ली को बुलाया तो उसने पास आने के बजाए दीवार पर पंजे मारना शुरू कर दिए। वीआईपीपी के सदस्यों को यह समझते देर नहीं लगी कि कुछ न कुछ गड़बड़ जरूर है। जब उन्होंने टंकी में झांककर देखा तो उसके अंदर पोहबी था। वीआईपीपी की एमी कैरे ने बताया कि पोहबी के टंकी में गिरने के बाद से टिल्ली वहीं बैठी रही, वो बीच-बीच में मदद के लिए बाहर जाती और फिर वहीं वापस आकर बैठ जाती। उसकी हालत देखकर लग रहा है कि उसने भी तकरीबन एक हफ्ते से कुछ नहीं खाया। यह देखना काफी मार्मिक था कि एक कुत्ता दूसरे को मुसीबत में अकेला छोडक़र नहीं दिया। एमी ने कहा, अगर टिल्ली ऐसा न करती तो पोहबी को ढूंढना शायद नामुमकिन होता क्योंकि दोनों जिस स्थान पर मिले वो उनके घर से मीलों दूर था। इस कहानी की हिरोइन टिल्ली है।

Leave a Reply