भारत के लिए Hinges लकी

क्रिकेट को  छोडक़र भारत की जय-जयकार अगर कहीं और हो रही है तो वो है टेनिस और बैडमिंटन। इन दोनों ही खेलों के लिए पिछला कुछ वक्त काफी अच्छा गुजरा। बैडमिंटन में जहां सानिया नेहवाल ने अपने दम पर दुनिया में बादशाहत हासिल की तो वहीं टेनिस में लिएंडर पेस और सानिया मिर्जा चमके। हालांकि लिएंडर और सानिया ने यह मुकाम स्विट्जरलैंड की मार्टिन हिंगिस के साथ मिलकर हासिल किया। वैसे, सही मायनों में देखा जाए तो हिंगिस का साथ मिलने के बाद ही दोनों की किस्मत ज्यादा चमकी। लिएंडर हिंगिस के साथ मिश्रित युगल में खेलते हैं और सानिया युगल में। हाल ही में सानिया और हिंगिस की जोड़ी ने साल के आखिरी ग्रैंड स्लैम अमेरिकी ओपन में महिला युगल वर्ग का खिताब अपने नाम किया। उन्होंने चौथी वरियता प्राप्त ऑस्ट्रेलिया की कैसी डेलक्वा और कजाखिस्तान की यारोस्लावा को सीधे सेटों में मात दी।

इससे पहले लिएंडर और हिंगिस ने मिश्रित युगत का खिताब भी जीता था। हिंगिस के साथ मिलकर लिएंडर और सानिया अब तक कई टाइटल जीत चुके हैं। यह कहना गलत नहीं होगी कि इस विदेशी पार्टनर का साथ पाकर दोनों भारतीय खिलाडिय़ों के प्रदर्शन में अप्रत्याशित सुधार आया है। ऐसा नहीं है कि दोनों ने अकेले खेलते हुए कोई कमाल नहीं किया, लिएंडर और सानिया विश्व टेनिस में शुरुआत से ही जाना-पहचाना नाम है। लेकिन ये भी सच है कि दोनों की झोली में जीत से ज्यादा हार रही हैं। मगर जब से Martina Hinges का साथ मिला, उन्होंने हर को पीछे छोड़ते हुए जीत को अपनी आदत में शुमार कर लिया। सानिया और हिंगिस की जोड़ी ने इस साल दुनिया के सबसे बड़े ग्रैंड स्लैम विंबलडन में भी जीत दर्ज की थी। टेनिस में विंबलडन मक्का की तरह है, जहां अच्छा प्रदर्शन करना हर खिलाड़ी की चाहत होती है। इस महिला जोड़ी के लगातार बेहतरीन प्रदर्शन के चलते सानिया को युगल वर्ग में दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी बनने का गौरव प्राप्त हुआ। इस मुकाम के लिए भारत सरकार ने उन्हें राजीव गांधी खेल पुरस्कार से भी नवाजा। लिएंडर पेस की बात की जाए तो उन्होंने भी हिंगिस के साथ मिलकर कई खिताब अपने नाम किए। इस साल दोनों ने मिश्रित युगल श्रेणी में तीन ग्रैंड स्लैम अपने नाम किए। इससे पहले दोनों ने ऑस्ट्रेलिया ओपन में भी मिश्रित युगल का टाइटल जीता था। साथ ही विंबलडन में भी जीत हासिल की थी।

रिकॉर्ड से चंद कदम दूर
रिकॉर्ड pace-hindesकी बात की जाए तो हिंगिस और लिएंडर की जोड़ी इतिहास रचने से बस एक कदम दूर है। दोनों ने अब तक 9 मिश्रित खिताब जीते हैं, अपने समय की मशहूर खिलाड़ी मार्टिना नवरातिलोवा और उनके पार्टनर से खिताबों से महज एक कम है। नवरातिलोवा ने कुल 10 मिश्रित युगल टाइटल जीते थे। वैसे, लिएंडर नवरातिलोवा के साथ भी खेल चुके हैं और दोनों की जोड़ी ने कुछ खिताब भी जीते थे। अकेले पेस की बात की जाए तो उनके नाम कुल 19 ग्रैंड स्लैम हैं।

सबसे बड़ी हिट
लिएंडर पेस 40 साल के हो चुके हैं, ऐसे में उनके लिए हर जीत महत्वपूर्ण है। जबकि हिंगिस उम्र के 35वें पड़ाव पर पहुंच चुकी हैं। हिंगिस ने एकल खिलाड़ी के तौर पर तीन बार ऑस्ट्रेलियन ओपन और एक बार यूएस ओपन में जीत दर्ज की थी। उन्होंने 1997 का विंबलडन खिताब भी अपने नाम किया था। चोट के चलते 2002 में उन्हें प्रोशनल टेनिस से ब्रेक लेना पड़ा, 2006 में उन्होंने फिर वापसी की। इसके बाद उन्होंने कुछ वक्त तक सिंगल खिलाड़ी के तौर पर अपने खेल को आगे बढ़ाया फिर युगल और मिश्रित युगल में आगे बढ़ गईं। फिलहाल हिंगिस की सानिया और लिएंडर के साथ जोड़ी सबसे ज्यादा हिट है।

नजर ओलंपिक पर
मिक्स डबल्स में लगातार बेहतरीन प्रदर्शन कर रहे पेस की नजर अब अगले साल रियो में होने वाले ओलंपिक पर टिकी हैं। साथ ही दिल्ली में होने वाले डेविस कप में भी अच्छा खेल दिखाने की उम्मीद है। सानिया और लिएंडर खुद इस बात को मानते हैं कि हिंगिस के साथ उनका तालमेल सबसे अच्छा है।

Leave a Reply