Newzealand में चमका यह भारतीय

टी-20 वर्ल्ड कप में Newzealand के हाथों टीम इंडिया की हार ने करोड़ों भारतीयों को भले ही निराश किया हो, लेकिन इस हार ने एक भारतीय को हीरो भी बना दिया है। हम बात कर रहे हैं न्यूजीलैंड टीम के भारतीय मूल के खिलाड़ी ईश सोढी की। नागपुर में खेले गए मैच में सोढी ने महज 18 Newzelandरन देकर तीन भारतीय विकेट झटके थे। सोढी की इस जबरदस्त परफॉर्मेंस के चलते टीम इंडिया को हार का सामना करना पड़ा। उन्होंने विराट कोहली, रविंद्र जडेजा और रविचंद्रन अश्विन को सस्ते में ही पवेलियन लौटा दिया था। 23 साल के ईश सोढी के चाहने वालों की फेहरिस्त एकदम से बढ़ गई है। इतना ही नहीं टीम के बाकी खिलाड़ी भी उनकी तारीफों के पुल बांध रहे हैं। तारीफ इसलिए भी कि सोढी ने उस टीम को एक-एक रन के लिए तरसा दिया जो स्पिन गेंदबाजी की सबसे अच्छी जानकार मानी जाती है। लेग ब्रेक गेंदबाज सोढी का जन्म लुधियाना में हुआ था। उन्होंने अक्टूबर 2013 में बांग्लादेश दौरे पर अपनी पहचान बनाई और जुलाई 2014 में वो पहली बार टी-20 वल्र्ड कप में वेस्टइंडीज के खिलाफ खेले। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कदम रखने से पहले सोढी ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में भी अपने आक्रामक तेवरों से चयनकर्ताओं को प्रभावित किया था।

बनाई थी खास योजना
सोढी ने भारत के खिलाफ मैच से पहले खास योजना तैयार की थी। भारतीय खिलाडिय़ों को स्पिन गेंदबाजी खेलने में माहिर माना जाता है। इसलिए सोढी ने कुछ नई गेंद इजाद की। उन्होंने जरूरत से ज्यादा टर्न कराने के बजाए विकेट टू विकेट गेंदबाजी पर फोकस किया। टी-20 मैचों में हर डॉट बॉल पर प्रेशर बढ़ता है, इस बात को ध्यान में रखते हुए सोढी की कोशिश यही थी कि ज्यादा से ज्यादा गेंद खाली निकाली जाएं। ताकि खिलाड़ी गलत शॉट लगाने को मजबूर हो जाएं।

Leave a Reply