एक्सप्रेस-वे से गुजर रहे हैं तो सावधान

अगर आप रात के वक्त पुणे-मुंबई एक्सप्रेस-वे (Pune-Mumbai Express-way)से गुजर रहे हैं तो सावधान हो जाइए, क्योंकि एक छोटी सी भूल आपके लिए जिंदगी भर का दर्द बन जाएगी। सडक़ हादसों के लिए मशहूर हो चुका यह एक्सप्रेस अब लुटेरों की भी पहली पसंद बन गया है। यहां आए दिन मुसाफिरों के साथ लूटपाट होती रहती है। कुछ ऐसा ही हाल पुराने हाईवे का भी है। अकेले वडगांव-मावल की सीमा में ही कई वारदातें हो चुकी हैं। हालांकि, पुलिस (Police) इन बpexpresswayढ़ती वारदातों के लिए कहीं न कहीं लोगों को ही कुसूरवार ठहराती नजर आ रही है। उसका कहना है कि लोग न तो समझाइश समझते हैं और न ही दिशा-निर्देशों को मानते हैं। एक पुलिस अधिकारी के मुताबिक, एक्सप्रेस-वे और पुराने हाईवे पर जगह-जगह नॉट टू हॉल्ट के बोर्ड लगाए गए हैं, बावजूद इसके वाहन चालक सुनसान इलाकों में रुक जाते हैं।
कुछ वक्त पहले मुंबई से पुणे लौटने के दौरान एक परिवार पर हुए हमले (Robbed, Attacked) के बाद एक्सप्रेस वे पर यात्रियों की सुरक्षा का मुद्दा गर्माया था, लेकिन ये गर्माहट ज्यादा तक दिनों तक कायम नहीं रह सकी। अमित माली कामशेत स्थित एक पेट्रोल पंप के पास अपनी पत्नी और बच्ची को कार में छोडक़र पानी की बोतल खरीदने गए थे, इतनी से देर में लुटेरे माली के परिवार को घायल कर लूटपाट कर फरार हो गए। पुलिस इस मामले में अब तक कोई गिरफ्तारी नहीं कर पाई है।

लुटेरों की मोड्स ऑपरेंडी
1.जानबूझकर गाड़ी में टक्कर मारना और फिर मारपिटाई कर कीमती सामान/कैश लेकर निकल जाना।
2. सडक़ पर फूड ग्रेंस बैग रख यात्रियों को वाहन रोकने के लिए आकर्षित करना।
3. गाड़ी की विंडस्क्रीन पर अंडे फेंकना, ताकि वाइपर का इस्तेमाल करते ही विजबिलिटी जीरो हो जाए और ड्राइवर को गाड़ी रोकनी पड़े।

क्या न करें
-पुलिस के दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए रात के वक्त बीच में न रुकें।
-अगर रुकना जरूरी है तो किसी ऐसे स्थान का चुनाव करें जहां अपेक्षाकृत कुछ भीड़-भाड़ हो, जैसे कोई रेस्त्रां या ढाबा।
-अगर कोई आपका पीछा कर रहा है तो बिना देर किए पुलिस को कॉल करें। महज गाड़ी भगाने से बेहतर होगा कि किसी रेस्त्रां आदि गाड़ी रोक दें। क्योंकि हड़बड़ाहट में हादसे की आशंका सबसे ज्यादा होती है।
-बीच रास्ते में किसी अंजान व्यक्ति को लिफ्ट कतई न दें।
-यात्रा करते वक्त अपने पास कुछ जरूरी फोन नंबर जरूर रखें, जिन्हें हम बता रहे हैं-

हाईवे ट्रैफिक पुलिस कंट्रोल -9833498334/986798675
कामशेत पुलिस-02114-262449
लोनावला ग्रामीण पुलिस-02114-273036
तलेगांव पुलिस-02114-222444