Thursday, 23 November 2017

प्रवीण मराठा Praveen Maratha

वरिष्ठ डिजाइनर

प्रवीण अपनी जादूगरी कई अखबारों में दिखा चुके हैं। उनके काम करने की गति को देखकर सहकर्मी उन्हें माइकल शूमाकर बुलाते हैं। प्रवाीण को किसी भी खबर को डिजाइन करने में मुश्किल से चंद मिनटों का समय लगता है। प्रवीण उन लोगों में शुमार हैं, जिनके पास काम की कोई कमी नहीं, उल्टा उन्हें लोगों को मना करना पड़ता है। डिजाइनिंग के साथ-साथ अब वे लेखन में भी खुद को स्थापित करने की कोशिशों में मशगूल हैं।