मंदिर से छुड़ाए 137 बाघ

थाईलैंड में वन विभाग ने बौद्ध मंदिर से बाघों को छुड़ाने का अभियान शुरू कर दिया है। मंदिर पर Tigers को सताने और वन्य जीवों Tigersकी तस्करी के आरोप लगे हैं। वन विभाग काफी समय से कार्रवाई करने की कोशिश कर रहा था, लेकिन हर बार मंदिर प्रशासन के रुतबे के चलते उसे अपने कदम वापस खींचने पड़ते थे। लेकिन इस बार अदालत ने खुद आदेश दिया है, इसलिए मंदिर प्रशासन और उसके हिमायती खामोश हैं।

     कंचनाबुरी प्रान्त में स्थित मंदिर से अब तक 137 बाघों में से कुछ को निकाल लिया गया है। बाकी को धीरे धीरे सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जाएगा। बाघों को यहां से हटाने के लिए एक हजार कर्मचारियों का दल काम में लगा हुआ है। बौद्ध भिक्षुओं ने पहले वन विभाग की कार्रवाई पर आपत्ति जताई, लेकिन अदालत के कड़े रुख के बाद वे सहयोग को तैयार हो गए।
पर्यटन स्थल
थाईलैंड में वॉट फा लुआंग बुआ बाघ मंदिर लोकप्रिय पर्यटन स्थल बन चुका है। यहां पर्यटक फीस चुकाकर बाघों को खाना खिला सकते हैं, उनके साथ फोटो ले सकते हैं। आरोप है कि यहां बाघों का गैरकानूनी प्रजनन भी कराया जाता था। पिछले साल पड़े छापे में पता चला था कि मंदिर में जरूरी अनुमति के बिना सियार और एशियाई भालुओं को रखा गया था।

Leave a Reply