अजब राष्ट्रपति की गज़ब प्रेमकहानी

फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों की प्रेम कहानी ऐसी है, जिस पर पहली बार में शायद आप भी विश्वास न करें. 39 साल के मैक्रों की पत्नी ब्रिजेट 64 साल की हैं, यानी दोनों के बीच 24 बरस का फासला है. इस प्रेम कहानी की शुरुआत तब हुई जब मैक्रों उत्तरी फ्रांस के जेसुएट स्कूल नामक स्कूल में पढ़ रहे थे. मैक्रों की गिनती उन दिनों भी जीनियस छात्रों में होती थी, उन्हें खेलने-कूदने के बजाए किताबों में डूबे रहना पसंद था. उसी स्कूल में ब्रिजेट की बेटी लॉरेंस भी पढ़ती थी, मैक्रों और ब्रिजेट के प्यार की शुरुआत में लॉरेंस की भूमिका सबसे अहम् रही. उसने ही इमैनुएल मैक्रों की इतनी तारीफ की कि ब्रिजेट उनसे मिलने को मजबूर हो गईं.

प्यार नहीं हुआ कम
उस समय ब्रिजेट की उम्र 40 साल थी और वो लॉरेंस के ही स्कूल में बच्चों को पढ़ाती थीं. ब्रिजेट के पति एक बैंकर थे. पहली बार स्कूल की नाटक मंडली में हुई मुलाकात के बाद ब्रिजेट और मैक्रों एक-दूसरे के करीब आते गए. हालांकि इस प्यार को समाज की अग्निपरीक्षा से अभी गुज़ारना बाकी था. जब मैक्रों के घरवालों को इस बारे में पता चला, तो उन्होंने ब्रिजेट को दो टूक शब्दों में अपने बेटे से दूर रहने की हिदायत दे डाली. ये बात अलग है कि ब्रिजेट पर इसका कोई असर नहीं हुआ.

दो साल बड़ा बेटा
मैक्रों के माता-पिता ने उन्हें पेरिस भेजने का फैसला लिया, लेकिन ये दूरी भी मैक्रों और ब्रिजेट को एक-दूसरे से दूर नहीं कर पाई. दोनों घंटों फ़ोन पर बातें किया करते थे. मैक्रों ने  17 साल की उम्र में यह फैसला कर लिया था कि उन्हें ब्रिजेट से ही शादी करनी है. 2006 में ब्रिजेट ने अपने पहले पति से तलाक लिया और 2007 में ब्रिजेट और मैक्रों ने शादी रचा ली. वैसे तो ब्रिजेट और मैक्रों की कोई संतान नहीं है, लेकिन इमैनुएल ब्रिजेट के तीन बच्चों के पिता हैं और ब्रिजेट के बेटे की उम्र उनसे 2 साल बड़ी है. यानी इमैनुएल का बेटा उनसे 2 साल बड़ा है.

Leave a Reply